अल्सर बीमारी और खाना –

बहुत से लोग अल्सर से पीड़ित होते हैं। अल्सर में पेट या छोटी आंत की परत पर घाव होता हैं। अल्सर के कारण पेट में दर्द और जलन होती है। अल्सर का ठीक से इलाज करने की जरूरत होती है। अल्सर में उचित खाना सेवन करने की जरूरत होती हैं।

हेलिकोबैक्टर पाइलोरी बैक्टीरिया का पेट में संक्रमण होने से अल्सर बीमारी होती है। इसके साथ ही पेट में स्थित एसिड, शराब, तंबाकू या सिगरेट की लत और एस्पिरिन जैसी ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक दवाओं का सेवन, मसालेदार भोजन के लगातार सेवन के कारण भी अल्सर होता है।

अल्सर में क्या क्या खाना चाहिए ..?

  • अल्सर होने पर एक गिलास दूध पीना चाहिए।
  • डाल चावल को घी के साथ खाना चाहिए। घी एक बेहतरीन कोलेगॉग है क्योंकि इससे एसिडिटी कम होती है और यह अल्सर पर बहुत असरदार होता है।
  • दही में प्रोबायोटिक्स होते हैं और अल्सर होने पर इसे भोजन में शामिल करना चाहिए।
  • दिन भर में पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए
  • हरी पत्तेदार सब्जियां, फल, ताजे फल, हल्दी, लहसुन खाएं, शहद शामिल करना चाहिए।
  • केले , अनार, सेब, स्ट्रॉबेरी जैसे फल खाने चाहिए
  • ज्यादा देर तक भूखे न रहें। सही समय पर भोजन लेना चाहिए। काम के चलते खाना न भूलें।

अल्सर बीमारी में इसप्रकार भोजन खाने की आवश्यकता होती है।

अल्सर में क्या क्या नहीं खाना चाहिए ..?

  • मसालेदार खाना, नमकीन भोजन, अचार, पापड़, स्नैक्स, चिप्स, फास्ट फूड, चॉकलेट ऐसे पदार्थ अल्सर में नहीं खाने चाहिए
  • अल्सर वाले लोगों को चाय, कॉफी या कोल्डड्रिंक नही पीना चाहिए।
  • पेट के एसिड को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों, जैसे नींबू और टमाटर इत्यादि नही खाने चाहिए।
  • एच पाइलोरी जीवाणु संक्रमण को रोकने के लिए, दूषित भोजन, दूषित पानी या खुले खाद्य पदार्थ नहीं खाने चाहिए।
  • अगर अल्सर में हार्टबर्न या छाती में जलन हो रही है तो नींबू पानी भी नहीं पीना चाहिए।
  • अल्सर होने पर शराब, तंबाकू और धूम्रपान बिल्कुल बंद कर दें।
  • बार-बार दर्द निवारक दवाएं ना ले।

अल्सर होने पर इसप्रकार भोजन खाना चाहिए। अल्सर पर सही समय पर उपचार किया जाना जरूरी है। अल्सर को नजरअंदाज करना घातक हो सकता है। इससे पेट से खून बहने का खतरा बढ़ जाता है।

4 Sources

Information about Foods to Eat and Foods to Avoid in Ulcer in Hindi language.